Results for कविता

समयक घाओ पर पट्टी बन्हैत

।। दीप नारायणक किछु कविता ।। १). आँगन मे बिहुँसैत कनैल आइ भोरे जखन सुरुज अकास पर धरैत छैक पहिल डेग... आ पातक सोपान पर नान्हि-न...
- जुलाई 14, 2020
समयक घाओ पर पट्टी बन्हैत समयक घाओ पर पट्टी बन्हैत Reviewed by e-Mithila on जुलाई 14, 2020 Rating: 5

मिथिलाक मानचित्रपर भुतिआएल

 सुमित मिश्र गुंजनक किछु कविता  : ।। युद्ध ।। बहुतो ऐतिहासिक घटनाक साक्षी पहाड़, नदी, घाटी आ मैदान कहियो काल सुनाबै छै गाथा संघर्...
- जून 09, 2020
मिथिलाक मानचित्रपर भुतिआएल मिथिलाक मानचित्रपर भुतिआएल Reviewed by e-Mithila on जून 09, 2020 Rating: 5

कतेक नम्हर छै दुखक ई अलाप

|| लॉकडाउन : किछु कविता ||   — कुमार राहुल कुमार राहुल सुपरिचित कवि-पत्रकार छथि आ एकटा पैघ समयावधि सँ मैथिली लेखन सँ सम्बद्ध रहल ...
- मई 30, 2020
कतेक नम्हर छै दुखक ई अलाप कतेक नम्हर छै दुखक ई अलाप Reviewed by e-Mithila on मई 30, 2020 Rating: 5
कारी सागर मे डूबि गेल अछि सुरूज किरिन कारी सागर मे डूबि गेल अछि सुरूज किरिन Reviewed by e-Mithila on मई 28, 2020 Rating: 5
Blogger द्वारा संचालित.